Home उत्तर प्रदेश अलीगढ़ अलीगढ़ : भागवत अमृत कलश है, इसकी एक बूंद भी व्यर्थ नहीं...

अलीगढ़ : भागवत अमृत कलश है, इसकी एक बूंद भी व्यर्थ नहीं जानी चाहिए : सीपुजी महाराज

SHARE

अलीगढ़ – आचार्य सीपुजी महाराज ने कहा, कि भागवत कथा अमृत कलश है। इसकी एक बूंद भी व्यर्थ नहीं जानी चाहिए। उन्होंने कहा, कि भागवत जिज्ञासा का विषय है। हम जीवन में हर क्षण जाने-अनजाने में पाप कर जाते हैं। कलियुग में भक्ति ही एक मात्र उपाय है, जिससे दुर्लभ मनुष्य जीवन को मंजिल तक पहुंचा सकते हैं। जीवन में सफलता प्राप्त करन के लिए जिस तरह जोश और होश की जरूरत होती है, उसी तरह भागवत श्रवण में भी जोश के साथ होश जरूरी है। भागवत भक्त और भगवान के एकाकार होने का सेतु है। इससे पहले बुधवार को बैंडबाजों ओर कीर्तन मंडली के साथ कलश यात्रा निकाली गई। कलश यात्रा पुष्पांजलि मन्दिर से प्रारंभ हुई कलश यात्रा में महिलाएं कलश धारण किए चल रहीं थीं। इसमें राजेश सिंह , मयंक उपाध्यये, अनुराग अग्रवाल ,संजीव शर्मा, भागवत ग्रंथ को सिर पर धारण किए चल रहे थे। कलश यात्रा का जगह-जगह पुष्प वर्षा से स्वागत किया गया। पुष्पांजलि मन्दिर से कलश यात्रा मुख्य मुख्य बाजार होते हुए कथा स्थल पहुची । शाम 3 बजे से श्रीमद्भागवत कथा के प्रथम दिन अलीगढ़ मण्डल के मण्डलायुक्त श्री अजयदीप सिंह जी, व हाथरस नगर पालिका परिषद के अध्यक्ष श्री आशीष शर्माजी द्वारा दीप प्रज्ज्वलन कर कथा का शुभारंभ किया गया। प्रथम दिवस भागवताचार्य पूज्य सीपू जी महाराज द्वारा श्रीमद्भागवत महात्म्य का वर्णन करते हुए कहा सर्वप्रथम मनुष्य को अपने आसन, सांस और क्रोध को जीतना होगा जिसने इन तीनो को जीत लिया उसे प्रभु प्राप्ति सम्भव है। समिति के प्रमुख रूप से मयंक जी, संजीव शर्मा, अनिल पोरस, संजीव रघुवंशी, अजय शर्मा, राजेश सिंह आदि उपस्थि त रहे।

LEAVE A REPLY