Home उत्तर प्रदेश अलीगढ़ खैर विधायक ने दरोगा से वापस कराये रिश्वत के चालीस हजार रूपये

खैर विधायक ने दरोगा से वापस कराये रिश्वत के चालीस हजार रूपये

SHARE

दरोगा की निलम्बन रिपोर्ट भेजें इंस्पेक्टर खैर विधायक दो युवकों को छोडने के नाम पर लिये थे चालीस हजार रूपया

खैर। चोरी की बैटरी खरीदने वाले दो युवकों को छोडने की एवज में चालीस हजार रूपये की रिश्वत लेने वाले दरोगा को निलम्बित किये जाने हेतु खैर विधायक अनूप प्रधान ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक से सिफारिश की है। साथ ही इंस्पेक्टर खैर को भ्रष्टाचार में लिप्त दरोगा की निलम्बन रिपोर्ट तत्काल भेजने को कहा है। ताकि भ्रष्टाचार में लिप्त लोगों के खिलाफ प्रभावी कार्रवाही हो सके और भ्रष्टाचार को जड से समाप्त किया जा सके।
रसूलपुर निवासी दो युवकों ने अनजाने में दो बैटरी खरीदी थी। बैटरी चोरों को पकडे जाने के वाद मामले का खुलासा हुआ। कोतवाली के दरोगा मदन सिंह बैटरी खरीदने वाले दो युवकों को कोतवाली ले आये। शनिवार को चालीस हजार रूपया लेकर दरोगा मदन सिंह ने बैटरी खरीदने वाले युवकों को छोड दिया। छोडे गये एक युवक के मामा ने पूरे घटनाक्रम से खैर विधायक को अवगत कराया। रविवार को अचानक खैर विधायक अनूप प्रधान कोतवाली आये तथा युवकों को छोडने की एवज में रूपया लिये जाने की बात पर उनके तेवर तल्ख हो गये। उन्होने पूरे घटनाक्रम से एसएसपी को अवगत कराया तथा रिश्वत लेने वाले दरोगा को निलम्बित किये जाने की सिफारिश की। मामले में एसएसपी ने खैर विधायक को कार्रवाही का आश्वासन दिया। उक्त मामले में खैर विधायक ने इंस्पेक्टर खैर को आरोपित दरोगा की निलम्बन रिपोर्ट एसएसपी कार्यालय भेजने को कहा। खैर विधायक ने मौके पर ही दरोगा से रिश्वत के चालीस हजार रूपया बापिस करा दिये।
खैर विधायक अनूप प्रधान बताया कि भाजपा सरकार में भ्रष्टाचार करने वालों की खैर नही। गरीव युवकों से चालीस हजार रूपया ऐंठने वाले दरोगा के खिलाफ कार्रवाही हेतु एसएसपी को सिफारिश की गई है।
उक्त मामले में इंस्पेक्टर खैर विनोद कुमार मिश्रा ने बताया कि खैर विधायक की शिकायत पर विधिक कार्रवाही की जा रही है। पूरे घटनाक्रम से उच्चाधिकारियों को अवगत करा दिया गया है।

LEAVE A REPLY