Home आपका शहर JEE, NEET को लेकर कांग्रेस का केन्द्र पर हमला,पूछा- क्या मोदी सरकार...

JEE, NEET को लेकर कांग्रेस का केन्द्र पर हमला,पूछा- क्या मोदी सरकार कोरोना ना होने की देगी गारंटी?

JEE, NEET को लेकर कांग्रेस का केन्द्र पर हमला,पूछा- क्या मोदी सरकार कोरोना ना होने की देगी गारंटी?

नई दिल्ली,। सितंबर में होने जा ज्वाइंट एंट्रेंस एग्जामिनेशन (जेईई) और नेशनल एलिजेबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट (एनईईटी) को लेकर कांग्रेस ने बुधवार को केन्द्र की मोदी सरकार पर जोरदार हमला बोला। कांग्रेस ने कहा कि केन्द्र सरकार ऐसा कर करीब 25 लाख छात्रों के स्वास्थ्य को खतरे में डाल रही है।

पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ये ट्वीट्स ऐसे वक्त पर किए हैं जब कुछ घंटे पहले कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने विपक्षी दलों की बैठक बुलाई थी। सात राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ इस बैठक में देश के इंजीनियरिंग और मेडिकल प्रवेश परीक्ष स्थगित करने को लेकर दायर याचिका खारिज होने की समीक्षा करने के लिए सुप्रीम कोर्ट जाने का फैसला किया गया है।

सुरजेवाला ने एक के बाद एक कई ट्वीट्स करते छात्रों की शिकायतों को ना सुनने का मोदी सरकार पर आरोप लगाया और एक स्वीकार्य समाधान के साथ आने के सुझाव दिए। उन्होंने माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर पर लिखा,JEE और NEET की परीक्षा सुनिश्चित कर 25 लाख छात्रों के स्वास्थ्य और सुरक्षा के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है। क्यों जिद्दी मोदी सरकार उनकी शिकायतों को सुनने, उन पर विचार करने और सभी के लिए स्वीकार्य समाधान खोजने से इनकार क्यों कर रही है?

सुरजेवाला ने एक अन्य ट्वीट करते हुए लिखा, “क्या मोदी सरकार इस बात की गारंटी देगी कि परीक्षा के दौरान JEE और NEET का कोई भी छात्र कोविड-19 संक्रमण से ग्रस्त नही होगा? कौन-कौन सी सुरक्षा सावधानियां और प्रोटोकॉल रखे गए हैं? कौन देखेगा कि दिशानिर्देश और प्रोटोकॉल एक खाली कागजी औपचारिकता नहीं बन गए है?”

कांग्रेस प्रवक्ता ने तीसरा ट्वीट करते हुए पूछा- “बाढ़ प्रभावित बिहार और असम के छात्रों के द्वारा JEE और NEET परीक्षा देने के बारे क्या व्यवस्था है? क्या NEET परीक्षा के लिए बिहार राज्य में केवल 2 केंद्र स्थापित किए गये हैं? क्या इसका मतलब बिहार के छात्रों को अवसर से वंचित करना नहीं है?”

रणदीप सुरजेवाला ने चौथे ट्वीट में लिखा, “कोविड-19 के कारण देशभर में ट्रांसपोर्ट या तो शुरू नहीं हुआ है या सामान्य नहीं हुआ है। पूर्ण सुरक्षा और वापसी के साथ JEE और NEET छात्र गंतव्य पर कैसे पहुंचेंगे? उनके ठहरने आदि की क्या व्यवस्था की गई है? क्या मोदी सरकार ने छात्रों को बग़ैर सोचे समझे अधर में छोड़ दिया है?”