Home Blog Page 2

यूट्रस का ऑपरेशन बीच में छोड़कर भागीं डॉक्टर,ओटी टेबल पर तड़पती रही मरीज……

यूट्रस का ऑपरेशन बीच में छोड़कर भागीं डॉक्टर,ओटी टेबल पर तड़पती रही मरीज…..

कानपुर,। कानपुर में कल्याणपुर के काशी अस्पताल में सीएमओ की छापेमारी के चलते ऑपरेशन कर रही डॉक्टर मरीज को ओटी टेबल पर छोड़कर पीछे के रास्ते से निकल गई। मरीज अद्र्घबेहोशी की हालत में थी। ऑपरेशन में लगी दोनों डॉक्टरों में एक गायनी सर्जन तो दूसरी एनेस्थीसिया विशेषज्ञ थी। बाद में सीएमओ ने दोनों को बुलाकर कड़ी फटकार लगाई है। साथ ही लापरवाही पर एफआईआर दर्ज करने और एमसीआई को पत्र भेजने की बात कही है।

काशी अस्पताल कल्याणपुर में देर रात ओटी में एक महिला के यूट्रस का ऑपरेशन चल रहा था। सीएमओ की छापेमारी से अस्पताल में अफरातफरी मच गई। डॉक्टर बिना मरीज को पैक किए ओटी में छोड़कर चली गई। मरीज को कमर के नीचे बेहोशी भी दी गई थी। सीएमओ ने ओटी खुलवाकर देखा तो एक पुरुष कर्मचारी था जो प्रशिक्षित भी नहीं था। उसी ने जैसे तैसे र्पैंकग की थी। सीएमओ डॉ. अनिल कुमार मिश्र ने वहीं से डॉक्टर को फोन लगाया तो डॉक्टर ने बताया कि वह स्वरूप नगर पहुंच गई हैं। इस पर सीएमओ ने कड़ी नाराजगी जताते हुए पुलिस भेजने की बात की तो वह अस्पताल पहुंची। और मरीज को संभाला। सीएमओ डॉ. अनिल कुमार मिश्र के मुताबिक मरीज को ब्र्लींडग हो सकती थी। उसकी जान को पूरा खतरा है। मरीज को बगैर स्टेबिल किए वह कैसे चली गईं।. रुचि राठौर अस्पताल में ऑपरेशन कर रही थीं। एनेस्थीसिया विशेषज्ञ भी थीं। इस तरह लापरवाही से मरीज की जान जा सकती है। इस पर डॉक्टर रुचि राठौर को हिदायत दी गई है कि अगर मरीज को कुछ हो गया तो उन पर एफआईआर दर्ज कराएंगे। वैसे भी इस लापरवाही पर डीएम की अनुमति से कार्रवाई करेंगे। एमसीआई को भी पत्र भेजा जा रहा है ताकि इस तरह की प्रैक्टिस पर रोक लगे। सीएमओ के मुताबिक तीन अन्य मरीज ऑपरेशन करान वाली भर्ती हैं। अस्पताल में न तो स्टाफ नर्स हैं और नही प्रशिक्षित स्टाफ है। संचालक उमाशंकर से पूछा गया तो हाल ही रजिस्ट्रेशन कराने की बात सामने आई है जबकि अस्पताल कई वर्षों से चल रहा था।

रजिस्टे्रशन रद कराने की तैयारी…..

अस्पताल में बुखार और ऑपरेशन के मरीज साथ साथ भर्ती हैं। बुखार में मरीजों की किट से डेंगू की जांच की गई है वह पॉजिटिव बताकर इलाज कर रहे थे। जबकि एलाइजा जांच होनी चाहिए और सीएमओ कार्यालय पर इसकी सूचना होनी चाहिए। सीएमओ का कहना है कि अस्पताल में अव्यवस्था है कोई र्होंल्डग एरिया नहीं है। किसी की जांच नहीं हो रही है। इस तरह अस्पताल को नोटिस दिया गया है रजिस्ट्रेशन रद करने की कार्रवाई की जा रही है।

बाबू को हटाया गया…..

सीएमओ ने नर्सिंग होमों के र्डींलग बाबू को उसके पटल से हटा दिया है। उस पर नर्सिंग होमों के रजिस्ट्रेशन में गम्भीर अनियमितता के आरोप हैं। सीएमओं के मुताबिक हाल में ही नर्सिंग होमों का नोडल बनाई गई एसीएमओ को कोरोना हो गया है। वह अवकाश पर हैं। इसलिए एसीएमओ डॉ. एपी मिश्र को नर्सिंग होमों का काम देखने को कहा गया है।

टोल पर खत्म होगी कैश लेन,अभी तक नहीं लगवाए हैं गाड़ी में फास्टैग तो जानिए कैसे मिलेगा

टोल पर खत्म होगी कैश लेन,अभी तक नहीं लगवाए हैं गाड़ी में फास्टैग तो जानिए कैसे मिलेग……

 

कानपुर,। नए साल से हाईवे पर सफर करने में एनएचएआई ने अब सभी टोल पर कैश लेन बंद करने का फैसला किया है। हाईवे पर सौ फीसदी वाहनों को फास्टैग लगाकर ही सफर करना होगा। फास्टैग के जरिए टोल लेने के सिस्टम को बनाने के लिए एनएचएआई ने अपनी सहयोगी कम्पनी इंडियन हाईवे मैनेजमेन्ट कम्पनी लिमिटेड (आईएचएमसीएल) को नामित भी कर दिया है। अभी हर टोल पर अप-डाउन दो-दो कैश लेन हैं। फास्टैग नहीं होने पर वाहनों को कैश टोल देकर निकलने की छूट है। यह नियम टोल प्लाजा के जिलों के वाहनों पर भी लागू होगा।

एनएचएआई के फैसले का धरातल पर लागू करने के लिए कानपुर रीजन के सभी 7 टोल पर तैयारी शुरू कर दी गई है,जिसे एक महीने में पूरा कर ट्रायल शुरू करने के निर्देश भी दिए गए हैं। हर टोल प्लाजा पर कैश लेन बंद होने के बाद जाम न लगे इसलिए दो-दो लेन कारों के लिए अलग रखी जाएंगी जबकि भारी वाहनों के लिए कहीं दो तो कहीं तीन-तीन फास्टैग लेन होंगी। भारी वाहनों के लोड को नापने के लिए उन्हीं में हाईटेक सेंसर भी लगाए जाएंगे। बिना फास्टैग के हाईवे पर एक जनवरी से सफर करना मुश्किल हो जाएगा। जिन वाहनों में फास्टैग नहीं होगा, उन्हें टोल प्लाजा पर ही फास्टैग लेकर पार करने की अनिवार्यता होगी।

एनएचएआई के कानपुर रीजन में कबरई हाईवे पर खन्ना और अलियापुर, एनएच-2 हाईवे में कटोघन,बडौरी, बाराजोड़ और अनंतराम और जालौन हाईवे पर उकासा टोल प्लाजा पर आईएचएमसीएल ने सिस्टम लगाने का काम शुरू कर दिया है। पंकज मिश्र,प्रोजेक्ट डायरेक्टर एनएचएआई ने बताया कि एनएचएआई ने नए साल से सभी टोल पर सौ फीसदी फास्टैग लेन करने का फैसला किया है। कैश लेन बंद होंगी। फैसले को लागू करने के लिए आईएचएमसीएल को नामित कर दिया गया है। कानपुर रीजन के सातों टोल पर एक जनवरी से वाहनों को फास्टैग से ही टोल देने पर आगे जाने दिया जाएगा। अब हाईवे पर सफर करना है तो हर वाहन को फास्टैग लेने की अनिवार्यता होगी।

हर टोल पर 15 मिनट में मिलेगा फास्टैग, रीचार्ज भी होगा…..

एनएचएआई ने 1 जनवरी से हर टोल पर सभी लेन फास्टैग करने का फैसला लागू करने से पहले अभी से टोल प्लाजा पर 15 मिनट में वाहन स्वामियों को नया फास्टैग मिल जाएगा। आईएचएमसीएल ने वाहन स्वामी को पेपर लेकर नए फास्टैग के साथ ही टोल के रिचार्ज की सुविधा भी देने की शुरुआत कर दी है। यही नहीं, जिन वाहन स्वामियों के फास्टैग है और वे टोल प्लाजा पर टोल रिचार्ज कराना चाहते हैं तो आईएचएमसीएल ऑनलाइन और कैश दोनों सिस्टम से फास्टैग के रिचार्ज वॉलेट में धनराशि भी रिचार्ज कर देगा। टोल प्लाजा पर कुछ बैंकों ने भी अपने काउंटर खोल दिए हैं।

ऐसे मिलेगा फास्टैग कार्ड…..

वाहन स्वामी फास्टैग कार्ड टोल प्लाजा पर अब आसानी से ले सकेंगे। कार्ड उसे ही जारी होंगे जिसके नाम से वाहन है। इसके लिए वाहन का रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट, आधार कार्ड, पैन, ड्राइविंग लाइसेंस, वोटर आईडी (वैकल्पिक) की फोटो कॉपी देनी होगी। टोल प्लाजा पर उसी समय आपको यूजर आईडी भी मिलेगा जिसे आप अपना गोपनीय पिन नंबर डाल कर बाद में के्रडिट और डेबिट कार्ड से रीचार्ज कर सकेंगे।

सोनभद्र के लिए वरदान साबित होगा हर घर नल योजना-CMयोगी…..

सोनभद्र के लिए वरदान साबित होगा हर घर नल योजना-CMयोगी….

सोनभद्र,। पीएम नरेंद्र मोदी ने वर्चुअल तथा सीएम योगी आदित्यनाथ ने सोनभद्र की धरती से धंधरौल बांध के समीप से आज 23 ग्रामीण पाइप पेयजल परियोजना का लोकार्पण किया। प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज जल जीवन मिशन के तहत ‘हर घर जल योजना’ की सोनभद्र से शुरुआत करते हुए कहा कि आज 5555 करोड़ रुपये की लागत से सोनभद्र व मिर्जापुर में 23 परियोजनाओं की शुरुआत की गई है। जिन्हें दो वर्षों में पूर्ण कर लिया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने संवाद करते हुए कहा कि “कोरोना वायरस के संक्रमण काल में ये योजना बेहद महत्वपूर्ण है। स्वच्छ पेयजल की उपलब्धता से तमाम बीमारियों को नियंत्रित करने में सफलता प्राप्त होगी। इसके बाद सोनभद्र व मिर्जापुर में जल समृद्धि आएगी। यह परियोजना सोनभद्र और मिर्जापुर के क्षेत्र में सौगात साबित होगी। वहीं इस योजना से लाखों लोगों को फायदा होगा। वहीं अब निकट भविष्य में विंध्य क्षेत्र के ग्रामीणों को पीने के पानी के लिए शुद्ध पेयजल की समस्या अब समाप्त होगी। उन्होंने कहा कि अब मीलों दूर से पानी ढो कर लाने की मशक्कत से ग्रामीण महिलाओं को निजात मिलने जा रही है। केंद्र सरकार की हर घर नल योजना के तहत योगी सरकार सोनभद्र के 663 गांवों तथा मिर्जापुर के 1606 गांवों में पाइप के जरिये पेय जल सप्लाई शुरू करेगी। सोनभद्र में इस योजना पर सरकार ₹3212.18 करोड़ खर्च कर 14 ग्रामीण पाइप पेयजल परियोजना लगाई जाएगी। तो वहीं मिर्जापुर में ₹2343.20 करोड़ की लागत से 9 परियोजना को पूर्ण किया जाएगा।

पीएम ने की सीएम योगी की तारीफ…..

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि यूपी सरकार ने कोरोना काल के दौरान भी विकास कार्यों की रफ्तार धीमी नहीं होने दी, यह अपने आप में बहुत बड़ी बात है। प्रवासियों को घर पहुंचाने के साथ-साथ उनको रोजगार उपलब्ध कराया। इसके लिए उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उनकी टीम को बधाई दी। उन्होंने कहा कि जल जीवन मिशन एक महत्वाकांक्षी योजना है। इससे जल प्रबंधन और रखरखाव बढ़ेगा। मिर्जापुर सौर उर्जा का केंद्र बन रहा है। यहां की जल समस्या को दूर करने के लिए सरकार ने जो कदम उठाए हैं, उससे साफ पता चलता है कि सरकार सिर्फ लोगों की परेशानियों को समझती ही नहीं, बल्कि उसे दूर करने का काम भी करती है। यह बातें उन्होंने आज सोनभद्र में वर्चुअल माध्यम से हर घर नल योजना के शुभारंभ कार्यक्रम के दौरान कहीं। उन्होंने कोरोना काल में यूपी सरकार के विकास कार्यों की जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा कि 5555 करोड़ रुपए की हर घर नल योजना से तीन हजार गांवों के 41 लाख लोगों को सीधे नल से पानी मिलेगा,जो एक बहुत बड़ी उपलब्धि है। सोन, गंगा, बेलन, कर्मनाशा और शिप्रा जैसी नदियां होने के बाद भी बुंदेलखंड सूखा प्रभावित रहा है। पानी की कमी के चलते यहां से पलायन भी हुआ। यूपी सरकार ने बुंदेलखंड और विंध्य क्षेत्र के हर घर तक नल से पानी पहुंचाने का काम शुरू किया है, जो बहुत ही सराहनीय है। उन्होंने सोनभद्र जिले की 14 और मिर्जापुर जिले की नौ पेयजल परियोजनाओं का शुभारंभ किया। इस योजना से बुंदेलखंड के सूखाग्रस्त इलाकों में रहने वाले लोगों को सीधे नल से पानी मिलेगा।

यूपी सरकार ने पाया इंसेफेलाइटिस पर काबू…..

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार ने इंसेफेलाइटिस पर जो काबू पाया है, वह बहुत ही सराहनीय है। विशेषज्ञ भी सरकार की प्रयासों की तारीफ कर रहे हैं। सरकार को मासूम बच्चों के परिवारीजनों से जो आशीर्वाद मिल रहा है, उसका अंदाजा भी नहीं लगाया जा सकता है।

लखनऊ : करोड़ों के असलहे लेकर आए नेशनल शूटर को एयरपोर्ट पर रोका….

लखनऊ : करोड़ों के असलहे लेकर आए नेशनल शूटर को एयरपोर्ट पर रोका…

लखनऊ,। लखनऊ एयरपोर्ट पर पुणे के नेशनल शूटर करोड़ों रुपए के असलहों के साथ रोके गए। दोनों खिलाड़ी इन असलहों के बारे में रायफल क्लब का प्रमाणपत्र नहीं दिखा पाए। ऐसे में इनके पास से बरामद 16 असलहों को कस्टम ने अपनी कस्टडी में ले लिया है। इन खिलाड़ियों को मोहलत दी गई है कि रायफल क्लब का प्रमाणपत्र दिखाएं। कस्टम के अनुरोध पर दिल्ली से रायफल क्लब की टीम भी मामले की जांच करने आ गई है। दोनों खिलाड़ियों ने टीम के सामने प्रस्तुत होने में यह कहते हुए असमर्थता जताई है कि उनको कोरोना के लक्षण है। दोनों ने टेस्ट कराया है।

दुबई से 5 नवंबर को आई अन्तरराष्ट्रीय उड़ान से दो राष्ट्रीय स्तर के शूटिंग खिलाड़ी अपने साथ बड़ी संख्या में असलहे लेकर आए। कस्टम ने नियमित जांच में उनको इसलिए रोका क्योंकि शस्त्र लेकर आना पूरी तरह से प्रतिबंधित है। ऐसे में इन खिलाड़ियों ने सभी शस्त्रों के खरीद के दस्तावेज प्रस्तुत किए। साथ ही राष्ट्रीय स्तर का शूटर होने का प्रमाणपत्र भी प्रस्तुत किया। सूत्रों के अनुसार बाहर से शस्त्र खरीद कर लाने वाले खिलाड़ी को रायफल क्लब का सहमति पत्र जरूरी होता है। इसमें लिखा होना चाहिए कि किस स्तर की प्रतियोगिता के लिए संबंधित बोर की गन वे ला सकते हैं। दोनों के पास ऐसा कोई प्रमाणपत्र नहीं मिला। ऐसे में उनको प्रमाणपत्र दिखाने के लिए समय दिया गया।

कस्टम ने तुरंत एनएआरआई यानी रायफल क्लब को सम्पर्क किया। राजधानी के रायफल क्लब के प्रतिनिधि आए तो असलहों को देख कर हैरान रह गए। उन्होंने कस्टम को दिल्ली स्थित क्लब के आला पदाधिकारियों से सम्पर्क करने को कहा। इसके बाद दिल्ली सम्पर्क किया गया। वहां से प्रतिनिधि एक दिन पहले शुक्रवार को लखनऊ पहुंचे। जब दोनों खिलाड़ियों को बुलाया गया तो उन लोगों ने आने में असमर्थता जाहिर की।

इसलिए उठे सवाल…..

– खिलाड़ियों का लखनऊ से कोई लेना देना नहीं है। ऐसे में वे यहां क्यों उतरे
– रायफल क्लब के प्रतिनिधि के सामने क्यों नहीं प्रस्तुत हुए।
– लाए गए असलहों के विदेश और भारत में दाम का भारी अंतर है।
– 90 हजार से एक लाख में मिलने वाली गन की कीमत यहां 80 से 85 लाख है

अभी जांच चल रही है…..

कस्टम के अधिकारी इस बारे में कुछ भी कहने से बच रहे हैं। एयरपोर्ट कस्टम की डिप्टी कमिश्नर निहारिका लाखा के अनुसार दोनों ने राष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ी हैं। खरीद रसीद और अपना प्रमाणपत्र भी प्रस्तुत कर चुके हैं। ऐसे में अभी छानबीन चल रही है। उनको आवश्यक दस्तावेज प्रस्तुत करने को कहा गया है। शस्त्र हमारी कस्टडी में हैं। कुछ भी कहना जल्दबाजी होगी।

पीएम मोदी ने की मुलायम सिंह यादव से बात,दी जन्मदिन की शुभकामनाएं…..

पीएम मोदी ने की मुलायम सिंह यादव से बात,दी जन्मदिन की शुभकामनाएं….

नई दिल्ली,। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रविवार को समाजवादी नेता और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव से फोन पर बात कर उन्हें जन्मदिन की बधाई दी और कहा कि वह देश के उन वरिष्ठ और अनुभवी नेताओं में शुमार हैं जो कृषि और ग्रामीण विकास के प्रति भावुक रहते हैं।

पीएम ने ट्वीट कर कहा कि मुलायम सिंह यादव जी से बात की और उन्हें जन्मदिन पर शुभकामनाएं दीं। वह देश के उन वरिष्ठ और अनुभवी नेताओं में हैं जो कृषि और ग्रामीण विकास के प्रति भावुक रहते हैं। मैं उनके स्वस्थ और दीर्घायु जीवन की कामना करता हूं।

अपने जन्मदिन के मौके पर मुलायाम सिंह यादव लखनऊ स्थित पार्टी कार्यालय भी पहुंचे। यहां पर उन्होंने कार्यकर्ताओं से भेंट की। इस दौरान सपा अध्यक्ष और उनके बेटे अखिलेश यादव भी मौजूद रहे। समाजवादी पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह यादव फिलहाल खराब सेहत के कारण सक्रिय राजनीति में नहीं हैं। वह देश के रक्षा मंत्री और तीन बार उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री भी रह चुके हैं।

मुलायम सिंह यादव के 82वें जन्मदिन के मौके पर समाजवादी पार्टी कई कार्यक्रम कर रही है। लखनऊ स्थित पार्टी मुख्यालय पर इस अवसर पर होर्डिंग और पोस्टर लगाए गए हैं। मुलायम सिंह यादव को बधाई देने वालों का भी तांता लगा हुआ है। राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी उन्हें शुभकामनाएं दी हैं। उनके छोटे भाई व प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष शिवपाल यादव ने भी ट्वीट कर लंबी आयु एवं अच्छे स्वास्थ्य की कामना की।

मुलायम सिंह यादव का जन्म इटावा जिले के सैफई गांव में हुआ था। किसान परिवार में जन्मे मुलायम के पांच भाई-बहन हैं। पिता सुधर सिंह यादव उन्हें पहलवान बनाना चाहते थे लेकिन पहलवानी में अपने राजनीतिक गुरु नत्थू सिंह को मैनपुरी में एक कुश्ती-प्रतियोगिता में प्रभावित करने के बाद उन्होंने नत्थू सिंह के ही विधानसभा क्षेत्र जसवन्त नगर से राजनीतिक सफर शुरू किया था। राजनीति में आने से पहले मुलायम कुछ दिनों तक इन्टर कॉलेज में टीचिंग भी कर चुके हैं।

अलीगढ:भाजपा एमएलसी प्रत्याशियों ने किया मतदाताओं का सम्मेलन

 

भाजपा एमएलसी प्रत्याशियों ने किया मतदाताओं का सम्मेल

अतरौली। आगरा खंड के भाजपा प्रत्याशियों ने रविवार को अतरौली में शिक्षक और स्नातक मतदाताओं से संपर्क कर मुद्दों के आधार पर अपने पक्ष में मत देने की अपील की। भाजपा जिलाध्यक्ष ने पार्टी के कार्यकर्ताओं से संगठन के दम पर चुनाव जिताने की रणनीति पर चर्चा की।
अतरौली के लालाराम डिग्री कॉलेज में रविवार को भाजपा स्नातक एमएलसी प्रत्याशी मानवेंद्र प्रताप सिंह और शिक्षक प्रत्याशी दिनेश वशिष्ठ ने मतदाताओं से संपर्क कर मत देने का आग्रह किया। मानवेंद्र प्रताप सिंह ने बोलते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश के विधान परिषद में भाजपा को अभी पूर्ण बहुमत प्राप्त नहीं है। जिसके कारण विकास संबंधी आवश्यक कानून पारित नहीं हो पाते हैं। ऊपरी सदन में भाजपा को पूर्ण बहुमत प्राप्त होने पर ऐसे कानून पारित कराए जा सकेंगे जो प्रदेश और राष्ट्र के हित में होंगे। शिक्षक एमएलसी प्रत्याशी दिनेश वशिष्ठ ने बोलते हुए कहा कि इस बार उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने वित्तविहीन कालेजों के शिक्षकों को सम्मान देते हुए उन्हें भी मत देने का अधिकार दिया गया है। इससे पूर्व विभिन्न कॉलेजों के शिक्षक एमएलसी शिक्षक के चुनाव में मतदान नहीं कर पाते थे। इस बार उन्हें यह अधिकार मिलने से उनका मान सम्मान बढ़ेगा, साथ ही शिक्षक के रूप में उनके कानूनी अधिकार भी प्राप्त होंगे। इसके सकारात्मक दूरगामी परिणाम देखने को मिलेंगे।
सभा की अध्यक्षता कर रहे जिला अध्यक्ष ऋषिपाल सिंह ने कहा कि भाजपा संगठन के दम पर भाजपा चुनाव में एकतरफा जीत प्राप्त करेगी। भाजपा के सभी कार्यकर्ता जमीनी स्तर पर कार्य कर रहे हैं। एमएलसी चुनाव के अलीगढ़ जिला प्रभारी प्रत्येंद्र प्रताप सिंह ने बोलते हुए कहा कि सभी कार्यकर्ताओं को सामंजस्य के साथ दोनों प्रत्याशियों की जीत सुनिश्चित करनी है। सभी कार्यकर्ता पिछले 6 महीने से इस चुनाव की तैयारियों में जुटे हुए हैं। भाजपा कुशल संगठन के दम पर अपनी जीत हासिल करेगी।
सम्मेलन में डॉ गोपाल माहेश्वरी, शिवनारायण शर्मा, उमेश राघव, धर्मेंद्र चौधरी, यज्ञपाल सिंह लोधी, रामअवतार शर्मा, दानसहाय अंकल, जिला मीडिया प्रभारी आशीष कुमार, मंडल अध्यक्ष संतोष गुप्ता, दिगंबर सिंह, चोब सिंह, सैकड़ों शिक्षक और स्नातक मतदाता उपस्थित रह

 

अलीगढ:राधारमण गौशाला में नगर आयुक्त ने गोवंश की सेवा की- गोपाष्टमी पर सप्ताह में 1 दिन गोवंश की सेवा करने का लिया संकल्प…

 

गोपाष्टमी नगर आयुक्त ने राधारमण गौशाला में किया दान

प्राइवेट राधारमण गौशाला में नगर आयुक्त में गोवंश की की सेवा- गोपाष्टमी पर सप्ताह में 1 दिन गोवंश की सेवा करने का लिया संकल्प

प्रदेश के यशस्वी माननीय मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ मंशा के अनुरूप संपूर्ण प्रदेश में मनाए जा रहे गोपाष्टमी के अवसर पर अलीगढ़ विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष और नगर आयुक्त प्रेम रंजन सिंह ने महानगर की आगरा रोड स्थित राधारमण गौशाला में पहुंच कर गोवंश को हरा चारा खिलाया वही गौवंश की देखरेख, चारे व शीतलहर में गौवंश के लिए गुड़ आदि की व्यवस्था करने हेतु गौ सेवा करते हुए ₹10100 का दान गौशाला को दिया।
नगर आयुक्त प्रेम रंजन सिंह ने कहा गोपाष्टमी के अवसर पर गौशाला में जाकर सेवा व दान करने से उन्हें गौ माता के रूप में अपनी माता जैसा स्नेह व सुकून मिला है। यह क्षण मेरे जीवन के स्वर्णिम क्षण है।

हाथरस केस:आरोपियों का होगा नार्को टेस्ट,CBI चारों को जेल से अपने साथ लेकर अहमदाबाद पहुंची…

हाथरस केस:आरोपियों का होगा नार्को टेस्ट,CBI चारों को जेल से अपने साथ लेकर अहमदाबाद पहुंची…

अलीगढ़,। हाथरस के कथित गैंगरेप केस के चारों आरोपियों का नार्को टेस्ट होगा। सीबीआई की टीम चारों आरोपियों को लेकर अहमदाबाद पहुंच चुकी है। हाथरस जेल के सूत्रों के मुताबिक,सीबीआई टीम चारों आरोपियों को यहां से अपने साथ लेकर गई है।

इससे पहले कथित गैंगरेप के मामले में घटनास्थल पर सबसे पहले पहुंचने का दावा करने वाला छोटू नाम का युवक नार्को और पॉलीग्राफ टेस्ट के लिए तैयार था। उसका कहना था कि सच सामने लाने के लिए वह टेस्ट के लिए तैयार है,साथ ही पीड़िता के परिजनों का भी टेस्ट होना चाहिए। उधर, युवक की मां ने टेस्ट पर आपत्ति जताते हुए बेटे को नाबालिग बताया था।

चंदपा क्षेत्र के गांव बूलगढ़ी में युवती के साथ हुई घटना के खुलासे के लिए सीबीआई जांच में जुटी है। घटना के वक्त पास के ही खेत में काम कर रहे एक युवक छोटू ने घटना स्थल पर सबसे पहले पहुंचने का दावा किया था। इसका घर पीड़िता के घर से थोड़ी दूरी पर ही है। यही युवक घटना के तुंरत बाद पीड़िता के भाई को बुलाने के लिए उसके घर आया था। सीबीआई छोटू से कई बार पूछताछ कर चुकी है। युवक के अनुसार सीबीआई उससे 20 से अधिक बार पूछताछ कर चुकी है।

युवक ने मीडिया से बातचीत के दौरान बताया कि सीबीआई ने गुरुवार को उसका कोविड-19 का टेस्ट कराया,जो नेगेटिव आया है। सीबीआई उसका नार्को-पॉलीग्राफ कराने की बात कर रही है। वह नार्को टेस्ट के लिए तैयार है। युवक ने कहा कि वह सीबीआई की बहुत इज्जत करता है। सच सामने आना चाहिए। उसने कहा कि पीड़ित परिवार के सदस्यों का भी टेस्ट होना चाहिए।

उधर, युवक की मां ने टेस्ट कराने से इनकार किया है। मां का कहना है कि वह अभी नाबालिग है। पीड़िता के परिवार और अन्य लोगों का भी टेस्ट होना चाहिए। उसका बेटा अभी बच्चा है। बेटे ने मौके पर जो देखा वह कई बार बता चुका है। दिन में तीन-तीन बार पूछताछ की जा चुकी है। वहीं, इस युवक के बड़े भाई ने दावा किया कि युवक अभी 18 साल का नहीं हुआ है। हाईस्कूल की मार्कशीट के अनुसार नाबालिग है।

यूपी:41 लाख ग्रामीणों को हर घर नल योजना की सौगात,पीएम मोदी ने किया वर्चुल शिलान्‍यास..

यूपी:41 लाख ग्रामीणों को हर घर नल योजना की सौगात,पीएम मोदी ने किया वर्चुल शिलान्‍यास.

लखनऊ,। उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर और सोनभद्र में 41 लाख से ज्‍यादा ग्रामीणों को योगी सरकार हर घर नल योजना की सौगात मिली। रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिल्ली से इस योजना का वर्चुल शिलान्‍यास किया। इस दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सोनभद्र के चतरा ब्लॉक के करमांव गांव से इस कार्यक्रम में शामिल हुए। शिलान्यास कार्यक्रम के बाद मुख्यमंत्री मिर्जापुर भी जाएंगे।

ग्रामिणों को संबोधित करते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि 70 साल में विंध्य क्षेत्र के केवल 398 गांवों में पेयजल आपूर्ति परियोजनाओं को विनियमित किया जा सका। आज हम इस क्षेत्र के 3000 से अधिक गांवों में ऐसी परियोजनाओं को आगे बढ़ाने के लिए हैं।

मिर्जापुर के 1606 गांवों को लाभ…..

हर घर नल योजना के तहत योगी सरकार मीरजापुर के 1606 गांवों में पाइप के जरिए पेय जल सप्‍लाई शुरू करेगी। इस योजना से मिर्जापुर के 2187980 ग्रामीणों को सीधा फायदा होगा। रविवार को सीएम मिर्जापुर के टाडा फाल गो आश्रय स्‍थल में गोपाष्‍टमी के कार्यक्रम में भी शामिल होंगे। वहां वह दीन दयाल उपाध्‍याय अन्‍त्‍योदय योजना के तहत स्‍कूल ड्रेस बनाने वाली महिलाओं को पारिश्रमिक का चेक भी सौंपेंगे। सीएम रविवार की शाम को विंध्‍यांचल धाम में माता विंध्‍यवासिनी देवी के दर्शन और पूजन करेंगे। इस दौरान मुख्‍यमंत्री कुछ योजनाओं और निर्माण कार्यो का निरीक्षण भी करेंगे।

सोनभद्र के 1389 गांव जुड़ेंगे…..

सोनभद्र के 1389 गांवों को भी योजना से जोड़ने की शुरुआत होगी। इन गांवों के 1953458 परिवार पेय जल सप्‍लाई योजना से जुड़ेंगे। विभागीय अधिकारियों के मुताबिक दोनों जिलों की योजनाओं से कुल 4141438 परिवार लाभान्वित होंगे। योजना पर कुल 5555.38 करोड़ की लागत तय की गई है। जल शक्ति मंत्रालय के अधिकारियों के मुताबिक अगले दो साल के भीतर योजना को पूरा कर गांवों में पानी की सप्‍लाई शुरू कर दी जाएगी।

अलीगढ:बाइक टकराने की घटना की कहासुनी में चली गोली एक घायल ,अकराबाद इलाके की घटना..

अकराबाद क्षेत्र में बाइक टकराने को लेकर युवक को मारी गोली,, घायल अवस्था में निजी अस्पताल में भर्ती,,

दरअसल आपको बता दें कि अकराबाद क्षेत्र के अंतर्गत गांव जिरोली हीरा सिंह निवासी एक व्यक्ति की बाइक दूसरी बाइक से टकरा गई इसी बात को लेकर दोनों युवकों में कहासुनी हुई,,जिसके बाद युवक ने दूसरे बाइक सवार पर गोली चला दी जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया घायल को उपचार के लिए निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है वहीं सूचना पर पहुंची पुलिस आरोपी की तलाश कर रही है और आरोपी घटना के बाद से फरार है,,

बाइक टकराने के बाद हुई कहासुनी में एक युवक ने दूसरे युवक पर गोली चला दी जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया दरअसल आपको बता देंगे पूरा मामला अकराबाद थाना क्षेत्र के जिरौली हीरा सिंह गांव का है जहां बाइक सवार दो युवकों की आपस में बाइक टकराने को लेकर झगड़ा हो गया था जिसके बाद दूसरे पक्ष ने बाइक सवार युवक पर गोली चला दी घटना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस आरोपी की तलाश कर रही है वहीं आरोपी मौके से फरार बताया जा रहा है अब ऐसे में देखने वाली बात यह होगी कि मामूली कहासुनी को लेकर आखिर जिले में कब तक गोली कांड होते रहेंगे,,

मथुरा