Home Blog Page 3

मथुरा:सपा नेता ने व्यापारियों की राहत के लिए लिखा मुख्यमंत्री योगी को पत्र..

सपा नेता ने व्यापारियों की राहत के लिए लिखा मुख्यमंत्री योगी को पत्

वृंदावन(एबी लाइव न्यूज़)। समाजवादी पार्टी के व्यापार सभा महानगर अध्यक्ष अंकित वार्ष्णेय ने प्रदेश के मुख्यमंत्री को लिखे पत्र में कोरोना के इस वीभत्स काल में व्यापारियों को राहत सुविधाएँ देने की मांग है।
पत्र में उन्होंने लिखा है कि कोविड 19 की दूसरी लहर में लगे लॉकडाउन की वजह से प्रदेश के करोड़ों व्यापारी त्राहि-त्राहि कर रहे हैं। आज हर व्यापारी को विकट कठिनाइयों व समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। शायद ही कोई व्यापारी होगा जिसका परिवार इस दूसरी लहर में कोरोना से बचा होगा। व्यापार बन्द है और इलाज का अभाव है। नोटबन्दी और जीएसटी से परेशान व्यापारी अभी तक सम्भला ही नहीं था कि 1 वर्ष में दो बार लॉकडाउन ने तो व्यापारी की कमर ही तोड़ दी है। प्रदेश के करोड़ों बड़े, मध्यमवर्गीय व छोटे-लघु व्यापारियों को हो रही समस्याओं व उनके जीवन यापन में कठिनाइयों को देखते हुए समाजवादी व्यापार सभा सरकार से तत्काल व्यापारियों के लिए अप्रैल व मई 2021 माह के बिजली बिल माफ करे तथा उद्योगों की कॉमर्शियल बिजली मीटर पर फिक्स्ड दर (मिनिमम चार्जेस) की जगह असल में हुई बिजली खपत का बिल ही वसूला जाए । जी०एस०टी० पंजीकृत, मंडी शुल्क देने वाले, रेहड़ी-ठेले में पंजीकृत सभी व्यापारियों, दुकानदारों, आदि को मुफ्त मेडिक्लेम बीमा की सुविधा उपलब्ध कराई जाये। कोरोना की वजह से मृत्यु होने पर जीएसटी, मंडी परिषद या किसी भी विभाग में पंजीकृत व्यापारी सरकार साथ ही साथ अपंजीकृत व्यापारी जैसे कि ठेले वाले,पटरी वाले व रेहड़ी वालों की भी मृत्यु होने पर परिवार को 10 लाख का मुआवजा दिया जाये। मजदूरों व कमजोर वर्ग की तरह ठेले,पटरी,रेहड़ी वालों को भी शासन मुफ्त राशन की व्यवस्था करे।
दुकान खुली मिलने पर पुलिस द्वारा व्यापारियों से अमानवीय व्यवहार की शिकायतें आ रही हैं। सरकार सुनिश्चित करे की किसी भी व्यापारी व आमजन के साथ भी अमानवीय व्यवहार न हो। लॉकडाउन में व्यापारी को हफ्ते में दो दिन दुकान की सफाई व जरूरी कागजात निकालने की अनुमति दी जाए। सभी विभागों के रिटर्न्स दाखिल करने की अवधि बढाई जाए। प्रदेश सरकार एनपीए की अवधि 90 दिन की जगह 180 दिन तथा व्यापारिक ऋण पर अप्रैल व मई माह का ब्याज माफ करने तथा बैंकों की किश्त पर मोराटोरियम की सुविधा देने का केंद्र सरकार से आग्रह किया जाए।

मथुरा:ठाकुर राधा दामोदर चंदन श्रृंगार कर दिए भक्तों को दर्शन

ठाकुर राधा दामोदर चंदन श्रृंगार कर दिए भक्तों को दर्श

शुभम शर्मा की रिपोर्ट

वृन्दावन(एबी लाइव न्यूज़)। वृन्दावन में अक्षय तीज का पर्व बड़ी धूमधाम के साथ मनाया जाता है। इसी क्रम के चलते सप्त देवालयो में से एक ठाकुर श्री राधा दामोदर मंदिर में अक्षय तृतीया का पावन पर्व बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है। लेकिन इस बार कोरोनावायरस महामारी को देखते हुए, मंदिर प्रबंधन ने अक्षय तृतीया का पर्व सूक्ष्म रूप में मनाने का निर्णय लिया। आपको बता दें कि राधा दामोदर मंदिर में 1 महीने पहले से ही अक्षय तृतीया की तैयारियां प्रारंभ हो जाती है। जिसमें मंदिर के सेवायत और सेवक दक्षिण भारत से आए हुए चंदन को घिसकर लेप बनाने का कार्य करते हैं। लेप में ठाकुर जी को गर्मी से राहत प्रदान करने के लिए तरह तरह की जड़ी बूटियों का भी मिश्रण किया जाता। इस लेप को अक्षय तृतीया के दिन ठाकुर जी को अर्पण किया जाता है। इस दिन ठाकुर जी को सिर्फ चंदन से सजाया जाता है। जिसे चंदन श्रंगार दर्शन भी कहा जाता है। इस बार मंदिर प्रबंधन के द्वारा बाहर से आने वाले श्रद्धालुओं को घर पर रहकर ही मन्दिर की फेसबुक वेबसाइट के जरिए दर्शन करने की अपील की। वहीं ब्रज वासियों के लिए मंदिर में दर्शन करने हेतु गाइडलाइन तैयार की गई। गाइडलाइन के अनुसार मंदिर में सिर्फ 5 भक्तों को एक बार में दर्शन करने की अनुमति दी गई।

मथुरा:रेडमिसिवर इंजेक्शन के कालाबाजारी रोकने को मथुरा सीएमओ ने उठाया कदम…

रेडमिसिवर इंजेक्शन के कालाबाजारी रोकने को मथुरा सीएमओ ने उठाया कद

मथुरा(एबी लाइव न्यूज़)।जनपद में रेमडेसिवर इंजेक्शन पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है कोई भी व्यक्ति सीएमओ ऑफिस के स्टोर से 1800 देकर प्राप्त कर सकता है। यह इंजेक्शन उन्ही मरीजों के तीमारदारों को दिए जाएंगे जो कि सीएमओ ऑफिस में रजिस्टर्ड अस्पताल है।

उक्त जानकारी मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ रचना गुप्ता ने राजपथ को देते हुए बताया कि जनपद में रेमडेसीविर इंजेक्शन भरपूर मात्रा में मौजूद है। उन्होंने बताया कि केडी मेडिकल कॉलेज और केएम मेडिकल कॉलेज में यह इंजेक्शन सरकार द्वारा फ्री उपलब्ध कराए जाते हैं। इसलिए इन दोनो अस्पतालों में इलाज करा रहे मरीज इंजेक्शन का कोई चार्ज नहीं दे। इंजेक्शन को लेकर कोई परेशानी हो तो लोग सीएमओ ऑफिस में संपर्क कर सकते हैं।

हाथरस:पूर्व ऊर्जा मंत्री रामवीर उपाध्याय की धर्मपत्नी सीमा उपाध्याय आज भाजपा में होंगी शामिल।

हाथरस
पूर्व ऊर्जा मंत्री रामवीर उपाध्याय की धर्मपत्नी सीमा उपाध्याय आज भाजपा में होंगी शामिल
प्रदेश उपाध्यक्ष,जिलाध्यक्ष,सांसद सहित दोनों विधायक रहेंगे मौजूद।

जिला पंचायत चुनाव में पार्टी से निष्कासित सभी 11 भाजपा नेताओ का निष्कासन होगा केंसिल।

जिला पंचायत अध्यक्ष की दावेदारी के लिए भाजपा प्रत्याशी होंगी सीमा उपाध्याय।

आज 12 बजे जिला भाजपा कार्यालय पर होगा कार्यक्रम।

भाजपा जिला अध्यक्ष गौरव आर्य ने की पुष्टी।

वृंदावन:नगर निगम की कचरा गाड़ी ने महिला सिपाही की गाड़ी को मारी टक्कर हुई मौत..

नगर निगम की कचरा गाड़ी ने महिला सिपाही की गाड़ी को मारी टक्कर,मौ

वृन्दावन(एबी लाइव न्यूज़)। मथुरा पुलिस में आज उस समय शोक की लहर दौड़ पड़ी। जब एक महिला सिपाही को चार पहिया वाहन ने टक्कर मार दी। जिससे महिला सिपाही की इलाज के दौरान मौत हो गई। वही पुलिस प्रशासन गाड़ी वाले पर कानूनी कार्यवाही करने में जुट गई है। वहीं मृतक महिला सिपाही के परिजनों का रोरो कर बुरा हाल है। थाना वृन्दावन इलाके में आज उस समय एक दर्दनाक हादसा हो गया। जब जन्मभूमि पर तैनात ज्योत्स्ना शर्मा जोकि वृंदावन में रहती थी। अपने पति के साथ मोटरसाइकिल पर सवार होकर ड्यूटी के लिए आ रही थी। तभी मथुरा वृन्दावन मार्ग पर नगर निगम की कचरा गाड़ी ने मोटरसाइकिल में टक्कर मार दी।वहीं गाड़ी चालक मौके से फरार हो गया। घटना की सूचना मौके पर मौजूद महिला सिपाही के पति द्वारा स्थानीय पुलिस को दी गई।जिस पर मौके पर आई पुलिस ने महिला सिपाही को इलाज हेतु हॉस्पिटल में भर्ती कराया। जहां पर उसकी नाजुक हालत के कारण इलाज के दौरान मौत हो गई। वहीं महिला सिपाही की मौत की खबर जैसे ही स्थानीय पुलिस महकमे को लगी तो बड़ी संख्या में पुलिस सिटी हॉस्पिटल पर पहुंच गई। मौके पर पहुँचे डीएसपी राम मोहन शर्मा ने घटना की जानकारी देते हुए बताया की महिला सिपाही कृष्ण जन्मभूमि पर तैनात थी, जोकि अपने पति में साथ ड्यूटी पर आ रही थी। तभी वृन्दावन इलाके में नगर निगम की कचरा गाड़ी वाले से टक्कर हुई। जिसमें इनकी मौत हो गई है।

अलीगढ:शहर के युवाओं में जग रहा कोविड वैक्सीन को लेकर क्रेज..

शहर के युवाओं में जग रहा कोविड वैक्सीन को लेकर क्रे

ऑनलाइन स्लॉट बुक करने पर पांच दिन बाद आया नम्बर

अलीगढ़ – आज खैर रोड स्थित लाल मस्जिद से आगे गुरूद्वारा के पास शहरी सामुदायिक स्वास्थ केन्द्र पर कोविड वैक्सीन लगवाई। वैक्सीन के दौरान विशाल देशभक्त ने बताया कि जब से सरकार ने 18 प्लस युवाओं को वैक्सीन लगाने का कहा है तब उसे युवाओं में एक अलग ही क्रेज देखने को मिल रहा है कई दिनों के बाद ऑनलाइन वैक्सीन लगाने का स्लॉट बुक हो रहे हैं कई सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर तो स्लॉट खाली ही नहीं है कुछ लोग वैक्सीन लगवाने के लिए दूर-दूर ग्रामीण क्षेत्रों में जा रहे हैं और कुछ लोग समय का इंतजार कर रहे हैं ज्यादातर लोगों को 1 हफ्ते का समय मिल रहा है कोवेशील्ड वैक्सीन लगवाने के लिए युवाओं में एक अलग ही उत्साह देखने को मिल रहा है तमाम युवा वैक्सीन लगवाने के बाद अपनी सेल्फी लेकर सोशल मीडिया पर डालने को उत्साहित रहते हैं ऐसे ही आज सराय हकीम के युवाओं ने नगला कलार के अंदर शहरी स्वास्थ्य सामुदायिक केंद्र पर कौवेशील्ड वैक्सीन लगवाई।

*अलीगढ़ से अक्षय गुप्ता की रिपोर्ट*

मथुरा:बेटी ने दी पिता को मुखाग्नि कोरोना के भय से आगे नहीं आए अपने..

बेटी ने दी पिता को मुखाग्नि कोरोना के भय से आगे नहीं आए अपन

मथुरा(एबी लाइव न्यूज़)।कोरोना संक्रमण ने परिवारों को भी अपनों से दूर कर दिया है। हालात यह है कि लोग अपने परिवार के मृत सदस्य के शव को हाथ लगाने से भी डर रहे हैं। कोरोना महामारी ने परिवार और समाज में सामाजिक विकृतियों को भी बड़े पैमाने पर जन्म दे दिया है। हालत इतनी खराब है कि बाहर के तो दूर सगे अपनो का साथ नहीं दे रहे। ऐसा ही एक मामला शहर थाना कोतवाली क्षेत्र के मानिक चौक का सामने आया है।
77 वर्षीय मुंबई प्रवासी एवं वर्तमान में मथुरा में निवास कर रहे गिरधारी लाल चतुर्वेदी की लंबी बीमारी के बाद कोरोना के संक्रमण से मौत हो गई। मृतक गिरधरी लाल चतुर्वेदी के एक पुत्र की पूर्व में कई साल पहले मौत हो चुकी है। वर्तमान में परिवार में उनकी 5 पुत्रियां हैं। गिरधर लाल चतुर्वेदी की मौत होने के बाद कोरोना संक्रमण के भय से उनके परिवार के अन्य लोग शव को अंतिम समय में कंधा देने के लिए भी नहीं पहुंचे। इस बीच उनकी सबसे छोटी पुत्री श्रीमती मृगया चतुर्वेदी पत्नी पंकज चतुर्वेदी निवासी काकोरन घाटी विश्राम बाजार मथुरा ने पुत्री धर्म निभाते हुए अपनी जान की परवाह न करते हुए ध्रुव घाट स्थित श्मशान गृह पर अपने पिता को मुखाग्नि देकर अंतिम संस्कार किया। इससे पूर्व वह परिवार के अन्य सदस्यों का श्मशान घाट पर इंतजार करते रहे। मगर 3 घंटे बीत जाने के बाद भी अन्य पुत्री अथवा उनका परिवार नहीं पहुंचा था।

वृंदावन:हनुमान टेकरी आश्रम में हर्षोल्लास के साथ मनाया गया अक्षय तृतीया का पावन पर्व..

हनुमान टेकरी आश्रम में हर्षोल्लास के साथ मनाया गया अक्षय तृतीया का पावन पर्

शुभम शर्मा की रिपोर्ट

वृन्दावन(एबी लाइव न्यूज़)।वृंदावन छटीकरा मार्ग स्थित फोगला आश्रम के समीप हनुमान टेकरी आश्रम में अक्षय तृतीया का पावन उत्सव बड़े ही धूमधाम के साथ मनाया गया। कोरोनावायरस की लहर को देखते हुए मंदिर में अक्षय तृतीया का आयोजन सूक्ष्म रूप से मनाया गया। जिसमें ठाकुर जानकी बल्लभ महाराज को सर्वप्रथम चंदन का लेप लगाया गया। जिसके तत्पश्चात जानकी बल्लभ महाराज को सत्तू और कई प्रकार के व्यंजनों का भोग लगाया गया। वही मौके पर मौजूद आश्रम के महंत दशरथ दास जी महाराज ने कहा कि आज का दिन बहुत ही पावन दिन है। आज के दिन से ही कई सारे शुभ कार्य प्रारंभ हुए थे। वही आज के दिन ही हिन्दुओ की पूज्य गंगा माँ का धरती पर अवतरण हुआ था और आज ही के दिन ब्राह्मणों के पूज्य भगवान परशुराम का जन्म हुआ था। आज के दिन विश्व विख्यात ठाकुर बांके बिहारी जी अपने श्री चरणों के दर्शन भक्तगणों को देते हैं। वर्ष में एक बार ही भक्तों को ठाकुर बांकेबिहारी के श्री चरणों के दर्शनों का सौभाग्य प्राप्त होता है। लेकिन इस बार कोरोनावायरस के चलते भक्तों को ठाकुर बांकेबिहारी जी के श्री चरणों के दर्शन नहीं हो पाएंगे।वही उन्होंने कहा कि आज का दिन बहुत ही शुभ दिन है। आज दिन से किसी भी शुभ कार्य का आरम्भ किया जा सकता है। क्योंकि अक्षय का अर्थ ही यह है कि जिसका नाश न हो सके। वही इस मौके पर आश्रम के बड़े महंत रामशरण दास महाराज, दशरथ दास महाराज, वृंदावन दस, शिव बालक दास, कौशलेश दास, माधव दास मन्दिर के आदि संत गण मौजूद रहे।

वृंदावन:एक बार फिर ठाकुर बांके बिहारी के सर्वांग दर्शन से वंचित रहेंगे भक्त..

एक बार फिर ठाकुर बांके बिहारी के सर्वांग दर्शन से वंचित रहेंगे भक्

वृन्दावन(एबी लाइव न्यूज़)। अक्षय तृतीया पर आज ठा. बांकेबिहारी चरण दर्शन देंगे, लेकिन भक्तों को आराध्य के चरण दर्शन के विलक्षण पलों का साक्षी बनने का मौका एक बार फिर नहीं मिलेगा। मंदिर के इतिहास में कोरोना के चलते लगातार दूसरी साल भक्त आराध्य के चरण दर्शन से वंचित रह जाएंगे। पिछले साल भी लॉकडाउन लगा हुआ था, तो इस बार भी कोरोना क‌र्फ्यू के चलते मंदिर में भक्तों को एंट्री प्रतिबंधित है। सालभर में एक ही दिन आराध्य के चरण दर्शन के लिए बांकेबिहारी के भक्त सालभर तक इंतजार करते हैं। अक्षय तृतीया पर लाखों श्रद्धालु आराध्य के चरण दर्शन को देश दुनिया से दौड़े चले आते हैं।

अक्षय तृतीया पर शुक्रवार को ठा. बांकेबिहारी मंदिर समेत सभी मंदिरों में ठाकुरजी चंदन लेपन कर सर्वांग दर्शन देंगे। ठाकुरजी के सर्वांग दर्शन के लिए देश दुनिया से लाखों श्रद्धालु वृंदावन में डेरा डालते थे। लेकिन लगातार दो साल से कोरोना क‌र्फ्यू का समय होने के कारण भक्तों को दर्शन सुलभ नहीं हो पा रहे। जबकि मंदिरों में अक्षय तृतीया का उत्सव परंपरागत तरीके से ही मनाया जाएगा। इसके लिए सेवायतों ने मंदिर में तैयारियां कर ली हैं और ठाकुरजी को चंदन लेपन व चरणों में अर्पित करने के लिए चंदन के गोले भी तैयार कर लिए हैं।

ठा. बांकेबिहारी मंदिर के सेवायत नितिन सांवरिया ने बताया कोरोना क‌र्फ्यू में भक्तों को आराध्य के चरण दर्शन नहीं होंगे। लेकिन मंदिर में परंपरागत तरीके से पर्व मनाया जाएगा। सुबह ठाकुरजी सुनहरा श्रृंगार कर चरण दर्शन देंगे, तो सेवायत उनके चरणों में सवा किलो का चंदन गोला अर्पित करेंगे। शाम को ठाकुरजी चंदन लेपन कर सर्वांग दर्शन देंगे। ठाकुरजी को भोग में सत्तू विशेष रूप से परोसा जाएगा। चंदन और सत्तू के लड्डू का प्रसाद भक्तों को बाद में बांटा जाएगा।

वृंदावन:घर मे रह की अदा की ईद-उल-फितर की नमाज

घर मे रह की अदा की ईद-उल-फितर की नमाP

वृन्दावन(एबी लाइव न्यूज़)।वृन्दावन में बड़े ही सौहार्द और शांतिपूर्ण ढंग से ईद उल फितर की नमाज अदा की गई। कोरोनावायरस के कहर के चलते इस बार वृंदावन की शाही जामा मस्जिद में सिर्फ 5 लोगों के द्वारा नमाज अदा की गई। वही आपको बता देगी ईद-उल-फितर इस्लाम का पावन त्योहार है। इसे मीठी ईद के नाम से भी जाना जाता है। रमजान के बाद 10वें शव्वाल की पहली तारीख को ईद मनाई जाती है। ईद मनाने की तारीख चांद को देखकर निश्चित होती है। ईद का चांद नजर आ चुका है, इस साल 14 मई 2021 को ईद मनाई जाएगी। ईद-उल-फितर पर खासतौर पर सेंवई बनती हैं। लोग एक-दूसरे के गले मिलकर ईद की मुबारकबाद देते हैं।

यह त्योहार भाईचारे का संदेश देता है। इस दिन मुस्लिम लोग सुबह नए कपड़े पहनकर नमाज अदा करते हुए सुख- चैन की दुआ मांगते हैं। इस मौके पर खुदा का शुक्रिया किया जाता है क्योंकि उन्होंने रमजाने के पूरे महीने रोजा रखने की ताकत दी। ईद पर जकात यानी अपनी कमाई की एक खास रकम गरीबों या जरूरतमंदों के लिए निकाली जाती है।

इस मौके पर मौजूद शाही जामा मस्जिद के अध्यक्ष आजाद कुरेशी ने बताया कि संपूर्ण देश में कोरोना वायरस का कहर चल रहा है। जिसके चलते इस बार हमने सभी नमाज अदा करने वाले नमाजियों से दरखास्त की थी, कि इस बार सभी अपने घर में रहकर ही ईद उल फितर की नमाज अदा करें। वही सभी को कोरोनावायरस से बचने के लिए भी उपाय बताए गए है। जिसमें सर्वप्रथम सभी से कहा गया है कि इस बार कोई भी गले मिलकर एक दूसरे को ईद की बधाई ना दे। सभी लोग मोबाइल के द्वारा एक दूसरे को ईद की बधाई दें। ऐसा करने से कई हद तक कोरोनावायरस को फैलने से रोका जा सकता है।

मथुरा